भारत की प्रमुख नदी परियोजनाएं (India's Major River Projects in Hindi)



बहु-उद्देशीय नदी घटी परियोजनाओं को "आधुनिक भारत का मंदिर" कहते है क्योकि इसके निम्न लाभ है l
  1. सिंचाई का प्रबंध,
  2. जल विद्युत् का उत्पादन,
  3. बाढ़ नियंत्रण,
  4. पर्यावरण की रक्षा,
  5. अन्तः-स्थलीय नौपरिवहन का विकास,
  6. भू-संरक्षण और मत्स्य पालन का विकास.


देश की कुछ प्रमुख नदी परियोजनाएं 

1 . दामोदर घटी परियोजना:-
  • दामोदर नदी में विकसित स्वतंत्र भारत की "प्रथम बहु-उद्देशीय नदी परियोजना"
  • इस योजना को अमेरिका की "टिनेसी योजना" के माडल के आधार पर बनाया गया.
  • दामोदर नदी को पहले बंगाल का शोक कहा जाता था.
  • इस परियोजना के तहत " तिलैया बांध, कोनार बांध, मैथन बांध, पंचेत बांध और दुर्गापुर बैराज का निर्माण किया गया है.
  • इसका उद्देश्य बाढ़ नियंत्रण, सिंचाई एवं विद्युत् उत्पादन है.
  • इसका मुख्या लाभ झारखण्ड और प.बंगाल राज्यों की मिलता है.
2 . कोसी परियोजना:-
  • बिहार का शोक मानी जाने वाली कोसी नदी पर भारत और नेपाल की संयुक्त परियोजना.
  • कोसी नदी में निर्मल "हनुमान नगर बैराज" से नहर निकाली गई है.
  • इस परियोजना का मुख्य उद्देश्य बाढ़ नियंत्रण है और बिहार-नेपाल के लिया लाभदायी योजना है.
3 . गंडक परियोजना :-
  • यह भारत-नेपाल के बीच गंगा की सहायक गंडक नदी पर बनी है.
  • इसका उद्देश्य सिचाई व विद्युत् उत्पादन है.
  • इससे नेपाल, बिहार, और उत्तर प्रदेश को लाभ होता है.
4 . हीराकुंड बांध परियोजना:-
  • उड़ीसा और छत्तीसगढ़ की सीमा पर महानदी में बना भारत का यह सबसे लम्बा बाँध (4.8 कि.मी.) है.
  • महानदी के डेल्टा क्षेत्रों में बाढ़ नियंत्रण के लिए इस योजना को प्रारंभ किया गया.
  • सिंचाई, बाढ़ नियंत्रण, और विद्युत् उत्पादन इसके मुख्य उद्देश्य है. 
5 . तुंगभद्रा नदी परियोजना:-
  • तुंगभद्रा नदी पर स्थित कर्नाटक और आंध्र प्रदेश कि संयुक्त परियोजना,
  • सिंचाई और विद्युत् उत्पादन इसके मुख्य उद्देश्य है.



6 . नागार्जुन सागर परियोजना:-
  • आंध्र प्रदेश में  कृष्णा नदी पर बनी इस परियोजना का नामकरण प्रसिध्द बौध्द संत नागार्जुन के नाम से किया गया.
  • इसका मुख्य उद्देश्य सिंचाई एवं विद्युत् उत्पादन है.
  • इससे लाभान्वित राज्य कर्नाटक और आंध्र प्रदेश है.
7 . भाखड़ा-नांगल परियोजना:-
  • पंजाब में सतलुज नदी में स्थित भारत की सबसे बड़ी बहु-उद्देशीय परियोजना है.
  • भूकंपीय क्षेत्र में स्थित यह विश्व का सबसे ऊँचा गुरुत्वीय बाँध है.
  • इस बाँध के पीछे बनी झील का नाम गोविन्द सागर है जो की सिखों के 10वे  गुरु गोविन्द सिंह के नाम से है.
  • इसकी सहायक इंदिरा गाँधी परियोजना के तहत राजस्थान तक इंदिरा नहर का विकास किया गया है. जो की भारत की सबसे बड़ी नहर प्रणाली है .
  • इसका मुख्य उद्देश्य सिंचाई एवं विद्युत् उत्पादन है.
  • पंजाब, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा इससे लाभान्वित होने वाले राज्य है.
8 . थीन बाँध परियोजना (जमनालाल बजाज सागर):-
  • पंजाब में रावी नदी पर स्थित परियोजना.
  • सिंचाई एवं विद्युत् उत्पादन मुख्य उद्देश्य 
9 . चम्बल घाटी परियोजना :-
  • चम्बल नदी में स्थित मध्य प्रदेश एवं राजस्थान की संयुक्त परियोजना,
  • इस योजना के तहत मध्य प्रदेश में गाँधी सागर और राजस्थान में राणा प्रताप सागरजवाहर सागरएवं कोटा बैराज बांधों का निर्माण किया गया है.
  • इसका मुख्य उद्देश्य मृदा संरक्षण , सिंचाई एवं विद्युत् उत्पादन है.
  • इससे लाभान्वित राज्य मध्य प्रदेश और राजस्थान है.
10 . नर्मदा घाटी परियोजना :-
  • इसके तहत 5 बड़े बांधों का निर्माण किया गया है. रानी अवन्ती सागर (बरगी बाँध), इंदिरा सागर, सरदार सरोवर बाँध, महेश्वर बाँध, ओम्कारेश्वर बाँध. 
  • इसका मुख्य उद्देश्य सिंचाई, जल-विद्युत् उत्पादन और मृदा संरक्षण है.
  • सरदार सरोवर बाँध मध्य प्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र व राजस्थान की संयुक्त परियोजना है.
  • मेघा पाटकर द्वारा "नर्मदा बचाओ आन्दोलन" उल्लेखनीय है.

अन्य प्रमुख नदी परियोजनाएं,
  

 परियोजना का नाम 
 नदी 
 सम्बंधित राज्य 
मयूराक्षी परियोजना
मयूराक्षी नदी
प.बंगाल 
फरक्का परियोजना
गंगा / भागीरथी
प.बंगाल
काकरापारा परियोजना
ताप्ती नदी
गुजरात
उकाई परियोजना
ताप्ती नदी
गुजरात
पोचम्पाद परियोजना
गोदावरी नदी
कर्नाटक
रिहंद परियोजना
रिहंद नदी
उत्तर प्रदेश
इदुक्की परियोजना
पेरियार नदी
केरल
माताटीला परियोजना
बेतवा नदी 
मध्य प्रदेश
जायकवाड़ी परियोजना
गोदावरी नदी
महाराष्ट्र
नाथपा-झाकरी परियोजना
सतलुज नदी
हिमाचल प्रदेश
मचकुंड परियोजना
मचकुंड नदी
उड़ीसा और आंध्र प्रदेश
तुलबुल परियोजना
झेलम नदी
जम्मू & कश्मीर
दुलहस्ती परियोजना
चिनाब नदी 
जम्मू & कश्मीर
कोयना परियोजना
कोयना नदी
महाराष्ट्र
सलाल परियोजना
चिनाब नदी
जम्मू & कश्मीर
टनकपुर परियोजना
महाकाली नदी 
भारत-नेपाल सीमा (उत्तर प्रदेश)
साबरमती परियोजना
साबरमती नदी
गुजरात
शारदा परियोजना
शारदा नदी
उत्तर प्रदेश
बाण सागर परियोजना
सोन नदी
मध्य प्रदेश
मैटूर परियोजना
कावेरी नदी
तमिलनाडु
सबरिगिरी परियोजना
पम्बा-काकी
केरल
श्री सैलम परियोजना
कृष्णा नदी
कर्नाटक
चुखा परियोजना
वांग्चु नदी     


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank You